जन्म तिथि के अनुसार अपनी राशि कैसे जाने | DOB Ke Anusar Apni Rashi Pata Kare in Hindi

क्या आप अपनी राशि जानना चाहते है.. क्या आपको आपकी राशि पता है.. क्या आपको राशियों के प्रकारों के बारे में पता है.. आपके जन्मतिथि के अनुसार आपकी राशि कौनसी है क्या आपको पता है.. जन्मतारीख के अनुसार अपनी राशि जाने.

जन्म तिथि के अनुसार अपनी राशि कैसे जाने

अधिकतर लोग इसी उलझन में रहते है उनकी असली राशि कौनसी है, क्योंकि 3 प्रकार से राशि निकाली जाती है। इसलिए लोग भ्रमित हो जाते है की उनकी असली राशि कौनसी है, वह कौनसी राशि फॉलो करे, इसका अनुमान वह खुद नहीं लगा पाते है। लेकिन हम यहां पर आपको एकदम सरल शब्दों में समझाने वाले है की आपको कौनसी राशि फॉलो करनी चाहिए। लेकिन उससे पहले हम यहां पर राशियों के 3 प्रकारों के बारे में शॉर्टकट में बता रहे है।

 

जाने राशियों के 3 प्रकारों के बारे में

1. सूर्य आधारित राशि या सन साइन

. .
  • सूर्य को सभी राशि चक्रों का दौरा करने के लिए पूरा एक साल लग जाता है। इस तरह सूर्य एक महीने में एक ही राशि में रहता है। इसलिए यदि कोई उस महीने में जन्म लेता है तो वह उस राशि का है ऐसा समजा जाता है। सूर्य आधारित राशि निकालना बहुत आसान है, निचे चित्र देखे आप खुद समज जायेंगे आप कौनसे राशि में आते है।

सूर्य आधारित राशि

 

2. अंक शास्त्र राशि :

  • इसमें अंको के अनुसार राशि निकाली जाती है। यहां पर 1 से 9 अंक होते है, प्रत्येक अंकों के लिए एक अलग ग्रह को स्वामी बताया गया है। अंकों के नुसार नामांक, मूलांक और भाग्यांक के तहत अंक में स्वामी और उसकी राशि बताई जाती है। नामांक, मूलांक और भाग्यांक क्या है इसके बारे में हम अगले आर्टिकल में जानेंगे। अब यहां पर देखते है की किस अंक के लिए कौनसा ग्रह और राशि निर्धारित है। निचे चित्र में देखे।

अंक शास्त्र राशि

 

3. चंद्र आधारित राशि या मून साइन

  • यह राशि जन्म तिथि के अनुसार निकाली जाती है। यह राशि जानना-पता करना आसान नहीं है, क्योंकि चन्द्रमा एक महीने के समय में सभी राशि चक्रों का एक चक्कर पूरा करता है और हर ढ़ाई दिन में राशि बदल जाती है। इसलिए कई पंडित चंद्र आधारित राशि जिसे मून साइन भी कहा जाता है, यह राशि निकालने में अक्षम हो जाते है। इसलिए कहते है की यह राशि पता करना आसान नहीं है। लेकिन आपको ज्यादा परेशान होने की जरुरत नहीं है, हम आपको आपके जन्मतिथि अनुसार बनने वाली राशि बताएँगे।
.

इन 3 राशियों में से कौनसी राशि फॉलो करे ?

  • हमारे देश में दो तरह राशिया ज्यादा प्रचलित है, पहली सूर्य आधारित राशि जिसे सन साइन कहते है और दूसरी चंद्र आधारित राशि जिसे मून साइन कहते है। इसलिए सवाल ये उठता है की इन 2 राशियों में से कौनसी राशि को अधिक मायने देना चाहिए..चलिए आगे जानते इसके बारे में।
.

सन साइन और मून साइन राशियों में से कौन सी राशि ज्‍यादा प्रभावी ?

  • जैसा की हमने ऊपर बताया की अधिकतर लोग इसी भ्रम में रहते है की कौनसी राशि को अधिक मायने देना चाहिए, कौनसी राशि को फॉलो करना चाहिए, कौनसी राशि ज्यादा प्रभावी होती है। इस सवाल का जवाब है.. मून साइन राशि अर्थात चंद्र आधारित राशि को अधिक मायने देना चाहिए, जन्म तिथि के अनुसार बनने वाली राशि ज्यादा प्रभावी होती है
.

कैसे माने मून साइन राशी ज्यादा प्रभावी होती है ?

  • विवाहे सर्वमागंल्ये यात्रादौ ग्रह गोचरे जन्मराशेः प्रधानतत्वं नामराशिं न चिन्तयेत। देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके नामराशेः प्रधानतत्वं जन्मराशि न चिन्तयेत।। 

यह 2 श्लोक आपने कहीं बार सुने होंगे.. इस श्लोक का मतलब होता है की शुभ कार्यो में, यात्रा में और ग्रह गोचर फल में विचार हेतु जन्म के अनुसार जो राशि बनती है वह प्रमुख होती है। ऐसा शास्त्रों में भी लिखा है कि विदेश यात्रा, व्यापार, व्यवसाय प्रारंभ करने, गृह प्रवेश और विवाह के समय हमेशा जन्म राशि राशि का प्रयोग करना चाहिए।

. .
  • विद्यारम्भे विवाहे च सर्व संस्कार कर्मषु। जन्म राशिः प्रधानत्वं, नाम राशि व चिन्तयेत्।। 

इसका मतलब पढ़ाई-लिखाई, विवाह, यज्ञोपवीत आदि मूल संस्कारित कार्यों में जन्म राशि की प्रधानता होती है। अब आप समझ चुके होंगे की शुभ कार्यों के लिए मून साइन राशि का ही प्रयोग करना चाहिए और जन्म तिथि के अनुसार बनने वाली राशि ज्यादा प्रभावी होती है। कुछ पंडितों के अनुसार..शनि की साढ़ेसाती भी जन्म राशि से ही देखनी चाहिए।

 

जिसे अपनी जन्मतिथि मालुम ना हो क्या करे ?

  • जिसे अपनी जन्मतिथि मालुम ना हो वो सन साइन या नाम के अनुसार बनने वाली राशी फॉलो कर सकते है। कई लोगों अपने अपने जन्म का समय-तारीख मालुम नहीं होती वो सनसाइन राशि फॉलो कर सकते है। इस राशि के भी अपने अलग मायने होते है जैसे..किसी व्यक्ति की जन्म कुंडली तैयार करने के लिए सन साइन राशि को भी ध्यान में रखा जाता है। पश्चिमी जन्म कुंडली केवल सन साइन के आधार पर अर्थात सूर्य आधारित राशि पर ही बनती हैं।
  • जिनको जन्म के बारे में कुछ भी मालुम नहीं वो नाम के अनुसार बनने वाली राशि फॉलो कर सकते है। जिनके अधिक नाम है उनके लिए पाश्चात्य देशों के अनुसार.. जिस नाम के लेने से सोया हुआ व्यक्ति नींद से उठ जाए उस नाम को अधिक मायने देना चाहिए। उस नाम से बनने वाले राशि को फॉलो करना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार दैनिक राशिफल देखने के लिए आप नाम राशि का उपयोग कर सकते हैं।
.

जन्म तिथि के अनुसार अपनी राशि कैसे जाने ?

  • जन्मतिथि के अनुसार अपनी राशि जानने के लिए आपको आपके जन्म का समय जन्मतारीख और ठिकान आदि मालुम होना चाहिए। अगर यह जानकारी आपको ज्ञात है तो हम आपको आपके जन्मतिथि के अनुसार आपकी राशि बताएँगे। अगर आप अपने जन्मतिथि के अनुसार राशि जानना चाहते है तो निचे कमेंट बॉक्स में अपनी जन्मतारीख + जन्म समय + जन्म ठिकान लिखे और कमेंट पोस्ट करे। इसके लिए निचे उदहारण देखे।
जन्मतिथि के अनुसार राशि जानने के लिए कमेंट कैसे करे ?
 
उदाहरण :

  1. जन्म तारीख : 14/07/1988 – जन्मसमय 2.30 PM – Nagpur, Maharashtra, India
  2. Dob : 14/07/1988 – Time 2.30 PM – Nagpur, Maharashtra India

कमेंट बॉक्स में ऐसे लिख कर आप अपनी जन्म राशि पूछ सकते है, जल्द ही आपकी जन्मराशि आपको बता दी जायेगी। इसके अलावा अगर आप अपने नाम के अनुसार अपनी राशि जानना चाहते है तो यहां क्लिक करे या निचे दिए हुए लिंक पर विजिट करे।

कृपया अपना कमेंट स्पष्ट लिखे ताकि हमें आपकी सही राशि खोजने में आसानी हो। उसके लिए ऊपर 2 उदहारण दिए हुए है, उस प्रकार अपना कमेंट लिखे।

Author : Kamlesh S

ये आर्टिकल भी जरुर पढ़े :

कंप्यूटर यूजर अपने आँखों की देखभाल ऐसे करे  भूख कम होने एवं भूख बढ़ाने के उपाय
चश्मा हटाए और अपने आँखों की रोशनी बढ़ाये भूख बढ़ाने के घरेलु उपाय
बाल झड़ने-टूटने लगे तो अपनाए ये तरिका खासी व् सुखी खासी का घरेलु इलाज
गंजेपन की समस्या सफल इलाज चहरे से मुहांसे के गड्डे कैसे भरे 
पेट की चर्बी कम करने के 10 घरेलु उपाय कील मुहांसों का सफाया कैसे करे
पेट का मोटापा कम करे कुछ ही दिनों में थकान व् कमजोरी का घरेलु इलाज
हाइट बढ़ाने के कुछ आसान उपाय दिमाग तेज करने व् याददास्त बढ़ाने के घरेलु उपाय
कमर दर्द का सफल इलाज आलस दूर करने के घरेलु उपाय
जानिये पेट में क्यों होती है गैस तंदरुस्त व् सेहतमंद रहने के घरेलु उपाय
चहरे पर काले दाग धब्बे आने के 10 कारण शरीर में तेजी से खून बढ़ाने के उपाय
चहरे से काले दाग धब्बे मिटाने के उपाय  जल्द नींद ना आने के कारण व् उपाय

उपरोक्त जानकारी यदि आपको अच्छी लगे तो इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक शेयर करे एवं निचे दिए हुए शोशल साइट्स पर शेयर करना ना भूले !

Advertisment..
90 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *