भारत में कितने प्रकार के लोन दिए जाते है.. जानिये | Loan type in India in Hindi

 

Loan type in India in Hindi

 

भारत में कितने प्रकार के लोन दिए जाते है.. जानिये | Loan type in India in Hindi

आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे की, भारत में कितने प्रकार के लोन दिए जाते है एवं उससे जुडी कुछ आवश्यक जानकारी इन हिंदी। Loan type in India in Hindi ! How many types of loans are given in India.

भारत में लगभग 10 – 12 प्रकार के लोन दिए जाते है, लेकिन सभी Loans की प्रक्रिया एवं सभी Bank की लोन देने की प्रक्रिया अलग अलग है। सभी बैंकों के ब्याज दर एवं Terms and Conditions भी अलग अलग है। भारत में बैंकों के आलावा कई Finance services भी है जो बैंकों की तरह लोन देते है। लेकिन इन फाइनांस सर्विसेस का Rate of interest बैंकों से थोडा अधिक होता है, इन Finance companies से बिना पूंजी रखे लोन नहीं मिलता है। अगर आपको इन Finance services से लोन लेना है तो कुछ ना कुछ Security के तौर पर गिरवी रखना होगा, जैसे गोल्ड या प्रॉपर्टी आदि।

.

भारत में लोन के प्रकार (Types of Loans in India)

1. पर्सनल लोन (Personal Loan)

2. गोल्ड लोन (Gold Loan)

3. प्रॉपर्टी लोन (Property Loan)

4. होम लोन (Home Loan)

5. एजुकेशन लोन (Education Loan)

6. वाहन लोन (Vehicle  Loan)

7. कॉर्पोरेट लोन (Corporate Loan)

8. शेयर लोन (Shares Loan)

9. प्रोजेक्ट लोन (Project Loan)

10. बिज़नेस लोन (Business loan)

11. फिक्स्ड दिपोझिट लोन (FD Loan)

 

लगभग सभी लोगों को Loans की आवश्यकता होती है, लेकिन सभी लोग बैंक लोन नहीं ले पाते है, इसकी वजह लोगों को Bank के नियम मालुम न होना या फिर लोन प्राप्त करने के लिए अधुरा प्रयास करना हो सकता है। क्योंकि Bank से Loan प्राप्त करना ज्यादा मुस्किल भी नहीं है। कई लोगों को बड़े ही आसानी से लोन मिल जाता है, क्योंकि वह बैंक के Terms and conditions फॉलो करते है।

आज हम यहाँ पर विभिन्न Loans के बारे बात करेंगे जिनकी सूची ऊपर दी हुई है। हम आज यहाँ पर 11 तरह के लोन के बारे में बात करेंगे, जो हर लोन आवेदक को जानना जरुरी है। क्योंकि कई लोग Loan नहीं मिल सकता यह सोच कर ही अपनी आवश्यक जरूरतों को अनदेखा कर लेते है, उन्हें यहाँ से काफी आवश्यक जानकारी प्राप्त हो सकती है।

 

1. पर्सनल लोन (Personal Loan)

यह लोन आप अपनी पर्सनल जरूरतों को पूरा करने के लिए ले सकते है, जैसे शादी के खर्चो के लिए, घुमने फिरने के लिए, मेडिकल फीस के लिए, घर का खर्चा मैनेज करने के लिए आदि। लेकिन ध्यान रहे.. इस लोन पर बैंक के ब्याज दर अधिक होते है, इस लोन को आपातकालीन स्थिति में ले – अधिक पढ़े

 

2. गोल्ड लोन (Gold Loan)

यह लोन आप अपना गोल्ड गिरवी रखकर ले सकते है, कई लोग इस लोन का उपयोग करते है, क्योंकि इस लोन में ब्याज दर बहुत कम होता है, इसलिए यह लोन लेना पुराता भी है। बैंक के अलावा कई फाइनांस कंपनियां भी गोल्ड पर लोन देते है – अधिक पढ़े 

 

3. प्रॉपर्टी लोन (Property Loan)

यह लोन आप अपनी प्रॉपर्टी गिरवी रखकर ले सकते है, अगर आप जल्द लोन प्राप्त करना है तो यह लोन आपके लिए बेहतर साबित होगा। इस लोन पर बैंक के ब्याज दर भी कम होते है, इसलिए कई सारे लोग इस लोन का इस्तेमाल करते है – अधिक पढ़े

 

4. होम लोन (Home Loan)

घर बनाने के लिए एवं घर खरीदने के यह लोन प्राप्त कर सकते है, यह लोन आसानी से नहीं मिलता लेकिन अगर आप बैंक के नियम व शर्ते फॉलो करते है तो यह लोन आपको मिलने में आसानी होगी। अगर आपके पास कोई पूंजी है, जैसे प्रॉपर्टी, गोल्ड, FD तो यह लोन भी आपको आसानी से मिल जाएगा – अधिक पढ़े 


5. एजुकेशन लोन (Education Loan)

पढाई के लिए, पढाई का खर्चा मैनेज करने के लिए यह लोन लिया जाता है, लगभग सभी बैंक यह लोन देते है, लेकिन स्टूडेंट को यह लोन लेने के लिए किसी गारंटर की आवश्यकता होती है। गारंटर स्टूडेंट के पिता या उसका को रिस्तेदार हो सकता है – अधिक पढ़े 

 

6. वाहन लोन (Vehicle  Loan)

वाहन खरीदने के लिए यह लोन लिया जाता है, लगभग सभी बैंक यह लोन देते है। अगर आपके पास कोई पूंजी है तो यह लोन आपको आसानी से मिल सकता है, पूंजी का अर्थ.. जैसे प्रॉपर्टी, गोल्ड, FD आदि ! बैंक के अलावा यह लोन कई सारे फाइनांस सर्विसेस भी देते है – अधिक पढ़े 

 

7. कॉर्पोरेट लोन (Corporate Loan)

यह लोन बड़े बड़े बिज़नेस मैंन लोग लेते है, जैसे.. विजय माल्या, अम्बानी ब्रदर, टाटा बिरला आदि। कंपनियों के आधार यह लोन मिलता है, जैसे कंपनी की बैलेंस शीट, कंपनी का टर्नओवर देखकर बैंक उन्हें लोन देती है और समय वसूल कर लेती है – अधिक पढ़े 



8. शेयर लोन (Shares Loan)

यह लोन भी एक लोन का ही प्रकार है, यह लोन कॉर्पोरेट लोन की तरह ही है। बैंक कुछ ख़ास कम्पनियों के शेयरों पर भी लोन देता है। बैंक किन शेयरों लोन देगा किन पर नहीं यह बैंक ही तय करता है। लोन कितना मिल सकता है यह शेयर की कीमत और लोन चुकाने की क्षमता पर निर्भर करता है – अधिक पढ़े 

9. प्रोजेक्ट लोन (Project Loan)

यह लोन भी एक लोन का ही प्रकार है, यह लोन आसानी से नहीं मिलता। भारत के लगभग बैंक यह लोन प्रोवाइड करते है, लेकिन किसी को इसकी अधिक जानकारी ना होने कारण लोग इस लोन के बारे में सोचते भी नहीं है। यह लोन आपके बनाये गए प्रोजेक्ट पर मिलता है – अधिक पढ़े

 

10. बिज़नेस लोन (Business loan)

बिज़नेस को आगे बढाने के लिए या फिर नया बिज़नेस शुरू करने के लिए यह लोन लिया जाता है। यह लोन प्राप्त करना आसान नहीं है, पर अगर आपके प्रॉपर्टी, गोल्ड या कोई एफडी है तो आपको यह लोन आसानी से मिल जाएगा – अधिक पढ़े 



11. फिक्स्ड दिपोझिट लोन (FD Loan)

यह लोन आपके किये गए फिक्स्ड दिपोझिट पर मिलता है, कई लोग यह लोन अधिक इस्तेमाल करते है, क्योंकि यह लोन आसानी से मिल जाता है। इस लोन पर ब्याज दर बहुत कम होता है। अगर आप इस लोन को इमरजेंसी में लेना चाहते हो तो, ले सकते हो, क्योंकि यह लोन जल्द ही मिल जाता है – अधिक पढ़े

 

Related keyword : Bharat me loan ke prakar, loan type in india in hindi, how many types of loans are given in india.

 

दोस्तों अगर आपको यह लेख अच्छा लगे तो हमें कमेंट करके जरुर बताये एवं हमारे फेसबुक पेज को लाइक करके इस लेख को अपने मित्रों में शेयर जरुर करे साथ ही इस लेख जुड़ा किसी का कोई भी सुझाव या सवाल है तो वह हमें कमेंट करके पूछ सकते है

 

यह आर्टिकल भी जरुर पढ़े :

Aadhaar Card Tips
Government Tips

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *